Thursday, December 11, 2008

देखें पाकिस्तान की दुर्भावनाएं.. बन रही है भयावह स्थिति ?

उर्दू में प्रकाशित होने वाले एक पाकिस्तानी अखबार ने २०१२ और २०२० तक पाकिस्तान शासित भूभाग का वर्णन किया है। उसका मानना है कि २०२० तक भारत का नामोनिशान मिट जाएगा। तस्वीरें इस्लामिक राज्य के सपने की हैं। अगर आप उर्दू जानते हैं तो इस अखबार ( http://express.com.pk/ ) को जरूर पढ़ें। यह ३ दिसंबर के संस्करण में प्रकाशित किया गया। या तो ऐसे अखबारों या इस तरह के लेखन पर पाकिस्तानी सरकार का अंकुश नहीं है, या यह अखबार पाकिस्तान सरकार के मंसूबे को प्रदर्शित करता है। आप अपनी राय जरूर दें।

4 comments:

Mired Mirage said...

भारत सरकार, या यूँ कहें कि राजनैतिक दलों के विदेशियों को जमकर अपनी भूमि में बसाने के अभियान के बावजूद भी यह केवल एक ख्याली पुलाव ही लगता है । भारत रहे न रहे, पाकिस्तान का साबुत रहना कठिन ही दिखता है ।
घुघूती बासूती

Arvind Mishra said...

मुझे तो लगता है इस्लाम का वजूद ही बमुश्किल एकाध दशक है ! इस आर्कियक रेलिजन की विदाई बस करीब ही समझिये !

संजय बेंगाणी said...

लौ बुझने से पहले ज्यादा फड़फड़ाती है.

Suresh Chiplunkar said...

सपने देखने में कोई बुराई नहीं है, खासकर उस स्थिति में जब भारत में "सेकुलर" नाम से उनके मित्र मौजूद हों…